रैकी कर लूटा था शराब कंपनी के सेल्समेन को, तीन रिमांड पर, सरगना की तलाश

पूर्व कर्मचारी ने तंगी होने पर बनाई थी वारदात की योजना,पिस्टल व बाइक भी जब्त

उज्जैन,अग्निपथ। इंगोरिया में शराब कंपनी कर्मचारी से छह दिन पहले पिस्टल अड़ाकर हुई1.90 लाख रुपए लूट का गुरुवार को पुलिस ने खुलासा कर दिया। वारदात में पकड़ाए तीन आरोपियों को रिमांड पर लेकर एक को जेल भेजा है। मामले में सरगना सहित दो की तलाश है। खास बात यह है कि कंपनी के ही पूर्व कर्मचारी ने आर्थिक तंगी के चलते लूट की सलाह देकर रैकी की थी।

हामूखेड़ी निवासी देवीसिंह शराबसमृद्धि ट्रेडर्स का कर्मचारी है।15 दिसंबर की रात वह कंपनी की तीन कलालियों से 1.90 लाख रुपए कलेक्शन कर नागदा बायपास रोड़ स्थित ऑफिस पहुंचा था। कार से उतर कर ऑफिस में जाने के दौरान बाइक सवार तीन बदमाश उसे व चालक को कट्टा अड़ाकर रुपए से भरा बेग छीन ले गए थे।

इस सनसनीखेज घटना में पुलिस ने तराना स्थित ईटावा के तरुण पिता सुरेश पाटीदार(27)घट्टिया के लोकेंद्र पिता मोहनसिंह (32) गौतमपूरा स्थित फूलाने के कालूसिंह बागरी(26)व जितेंद्र परमार (27) को गिरफ्तार किया। उनसे देशी पिस्टल, कारतूस, दो बाईक, तीन मोबाइल व 37 हजार रुपए जब्त कर गुरुवार को कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने कालू को जेल भेज तीनों को रिमांड पर सौंप दिया। पुलिस को अब मु य सरगना घट्टिया के कनार्दी निवासी ईशाक और उसके साथी की तलाश है।

ऐसे हुआ खुलासा

टीआई अमित सोलंकी ने बताया कि वारदात की सूचना मिलते ही घटना स्थल के पास मौजूद लोगों से पूछताछ की। पता चला दो युवक दो दिन से आफिस के पास चक्कर लगा रहे है। हुलिया बताने पर कंपनी कर्मचारियों ने उसकी पहचान लोकेंद्र के रुप में की। बताया वह 2017 में कंपनी में ही काम करता था। जानकारी के बाद पुलिस ने लोकेंद्र को पकड़ा तो उसने सब के नाम सामने आ गए।

सरगना के पास लूट की राशि

आरोपियों ने कबूला वे सब इशाक के साथ रहते है। रुपए की जरुरत होने पर किसी को लूटना चाहते थे। लोकेंद्र ने बताया कि शराब कंपनी का रोज लाखों का कलेक्शन होता है। उसके साथ दो दिन रैकी की। इशाक ने पिस्टल व बाइक का इंतजाम किया। वारदात के बाद उसने सभी को 15-20 हजार रुपए बांटे। शेष मामला ठंडा होने पर देना बताया। पुलिस को अब राशि बरामदी के लिए ईशाक का इंतजार है।

इनको मिली सफलता

लूट का खुलासा करने में एसडीओपी रविंद्र बोयट, टीआई अमित सोलंकी, एसआई सावन मुवेल, आरती डाबर, एएसआई दिनेश निनामा,सुनिल देवके,प्रआ. संग्रामसिंह, राहुलसिंह, आर.सतीश, स्वरुप, आकाश, राकेश व साईबर सेल के प्रतिक यादव,प्रेम सबरवाल व राजपालसिंह की सराहनीय भूमिका रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

महाकाल लोक के सुरक्षाकर्मियों को केएसएस कंपनी की डायरेक्टर की फटकार

Thu Dec 22 , 2022
बदसलूकी बंद करने को कहा, 100 के करीब सुरक्षाकर्मी हैं तैनात उज्जैन, अग्निपथ। श्री महाकालेश्वर मंदिर के महाकाल लोक में अवलोकन को आने वाले दर्शनार्थियों के साथ सुरक्षाकर्मियों द्वारा बदसलूकी की जाती है। गुरुवार को केएसएस (कृष्णा साल्यूशंस एंड सिक्यूरिटी) कंपनी की मैनेजिंग डायरेक्टर ने महाकाल लोक का दौरा किया। […]