नागदा को जिला घोषित करवाने के लिए मुख्यमंत्री को लिखेंगे 53 हजार पोस्टकार्ड

नागदा, अग्निपथ। पूर्व विधायक दिलीपसिंह शेखावत ने प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि नागदा शहर को जिला घोषित करने हेतु नागदा नगर, खाचरौद, आलोट, महिदपुर सहित ग्रामीण क्षेत्र से मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के नाम 53 हजार पोस्टकार्ड लिखे जायेंगे। पोस्टकार्डो में नागदा को शीघ्र ही जिला घोषित किया जाए यह बात कही जावेगी।

इसके लिये हम कार्ययोजना बनाकर प्रथम चरण में 53 हजार पोस्टकार्ड भेजने का लक्ष्य रखा है। इसके पश्चात् द्वितीय चरण में फार व्हीलर वाहनो के माध्यम से शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रो के गणमान्य नागरिक, पदाधिकारी, व्यापारी संघ, महिला शक्ति, सामाजिक कार्यकर्ता एवं आम नागरिको को भोपाल ले जाकर मुख्यमंत्रीजी से भेंट कर नागदा को जिला घोषित करने की बात रखेंगे। साथ ही उन्हें जिला बनाने हेतु अब तक किये गये प्रयासो से अवगत कराया जायेगा।

शेखावत ने बताया कि नागदा को जिला घोषित करवाने हेतु 53 हजार पोस्टकार्ड लिखने का लक्ष्य इसलिये रखा गया है कि अभी वर्तमान में मध्यप्रदेश में कुल 52 जिले घोषित है। हम क्षेत्रवासी यह चाहते है कि नागदा ही 53वां जिला घोषित हो। इसीलिये हम नागदा को जिला घोषित करवाने हेतु 53 हजार पोस्टकार्ड मुख्यमंत्री जी को भेजेंगे।

नागदा को जिला घोषित करवाने हेतु किये गये प्रयास

  • शेखावत ने बताया कि नागदा को जिला घोषित करने हेतु दि. 21.07.2016 को विधानसभा क्षेत्र से एक प्रतिनिधि मंडल भोपाल गया था। जिसमें नागदा, खाचरौद, आलोट एवं ग्रामीण क्षेत्र के करीब 150 से अधिक कार्यकर्ताओं ने वहां पहुंचकर मुख्यमंत्री जी से एक स्वर में नागदा को जिला घोषित करने की मांग रखी थी।
  • इसी के साथ महिला मण्डल ने भी मुलाकात की थी साथ ही अभिभाषक संघ के तत्कालीन अध्यक्ष मदनलाल मौर्य ने भी पत्र लिखकर नागदा को जिला बनाये जाने की मांग की थी।
  • मार्च 2020 में पुन: भाजपा की सरकार बन जाने एवं इसके बाद कोरोना काल आ जाने से सभी कोरोना में व्यस्त हो गये थे। तत्पश्चात् पुन: दिनांक 25/07/2022 को माननीय डॉ. थावरचंद जी गेहलोत एवं सांसद अनिल फिरोजिया के साथ दिल्ली प्रवास पर मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान एवं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वी. डी. शर्मा से सौजन्य भेंट कर नागदा को जिला घोषित करने का आग्रह किया था। जिस पर मुख्यमंत्री जी ने गंभीरता से विचार करने का हमें आश्वासन दिया था।
  • शेखावत ने आगे बताया कि मेरे पिछले विधायक कार्यकाल में नागदा को जिला बनाने के लिये मेरे द्वारा विधानसभा के सत्रो में दिनांक 15/12/2015, 27/02/2017, 26/07/2017, 07/02/2018, 21/06/2018 एवं 22/07/2018 को विधानसभा प्रश्नो के माध्यम से जिला बनाने की मांग की गई थी। साथ ही दिनांक 07/07/2016 एवं 13/07/2016 को ध्यानआकर्षण के माध्यम से भी नागदा को जिला बनाने का मुद्दा उठाया था।
  • इसके साथ ही मुख्यमंत्री को 7 बार नागदा को जिला बनाने हेतु पत्र लिखा गया। मेरे पत्र के संदर्भ में मुख्यमंत्री कार्यालय भोपाल से मुझे दिनांक 06/08/2016, 01/09/2016, 28/10/2016, 04/11/2016, 12/01/2017, 20/12/2017 एवं 20/03/2018 को पत्र प्राप्त हुए । जिसमें उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया गया। हम सभी का यह प्रयास रहेगा कि आने वाले समय में नागदा शहर जिला बने। इसके लिये हम सभी मिलकर हरसंभव प्रयास करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

कालापीपल विधानसभा में जनक्रान्ति यात्रा बिगाड़ेगी कांग्रेस का गणित

Sun Jan 15 , 2023
आज से हुई जनक्रांति यात्रा की शुरुआत पोलायकलां, अग्निपथ। इस साल होने वाले मप्र विधानसभा चुनाव में समय है परंतु धरातल पर जनप्रतिनिधियों द्वारा चुनाव की तैयारियों के लिए सियासी बिछात तैयार होने लगी हैं। इस बार कालापीपल विधानसभा सीट में भाजपा-कांग्रेस दोनों ही दलों का घमासान देखने को मिलेगा। […]