बुआ के लडक़े ने चुराए थे लाखों के आभूषण;  उधारी चुकाने पर धराया आरोपी

धार, अग्निपथ। शहर के रघुनाथपुरा में दो दिन पूर्व हुई लाखों के आभूषण की चोरी के मामले में आरोपी रिश्तेदार ही निकला। फरियादी के बुआ के लडक़े ने ही फ्रीज में रखी सोने के आभूषणों की पोटली देखकर वारदात को अंजाम दिया था। वारदात के बाद उधारी चुकाने पर आरोपी पर शंका में पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल लिया।

कोतवाली पुलिस ने बताया कि आरोपी से चोरी हुए सभी आभूषण भी जब्त कर लिए है। आरोपी ने पुलिस को बताया कि घर के सभी सदस्य बाहर होने से वह कई बार घर पर आया था। फ्रीज खोलने पर उसे एक पोटली में सोने के आभूषण दिखे जिन्हें वह चुराकर ले गया।

सभी सदस्य कार्यक्रम होने से घरवालों को घटना जानकारी 25 दिन बाद मिली थी। जिसके बाद कोतवाली थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। आरोपी पुलिस को गुमराह करता रहा, इसी बीच उसने एक बडी उधारी अपने दोस्त को चुकाई थी। पुलिस ने दोस्त और संदेही से सख्ती से पुछताछ की तो आरोपी ने अपना जुर्म करना कबूल लिया।

उधारी चुकाने से धराया

आरोपी ने इसी बीच अचानक महू निवासी अपने दोस्त को 7 हजार रुपए की उधारी चुकाई थी। पुलिस पछताछ में आरोपी ने दोस्त से पैसे लेकर उधारी चुकाने की बात करता रहा। जब पुलिस ने दोस्त से पुछताछ की तो उसने उधारी की बात को नकार दिया जिससे पुलिस को अंकित पर शंका हुई।

पुलिस ने बरामद किए आभूषण

घटना की जानकरी देते हुए कोतवाली टीआई समीर पाटीदार ने बताया कि शंका के आधार पर पुलिस टीम सबसे पहले अंकित शर्मा को महू से गिरफ्तार कर धार लाई थी। आरोपी पुलिस पुछताछ के दौरान गुमराह कर चोरी के आभूषणों को महू, धार और नासिक के अलग-अलग क्षेत्रों के सुनारों को बेचने की बात करता रहा। पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो आरोपी ने अपने पास आभूषण होने की बात कबूली। पुलिस ने आरोपी के पास से एक सोने की चेन, एक ब्रेसलेट, पांच सोने की अंगुठियां, एक मगंलसूत्र का पेंडल व अन्य रकम कीमती 3 लाख जब्त किया है।

यह था मामला

रघुनाथपुरा निवासी ऋषभ शर्मा ने 27 सितंबर को कोतवाली पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि दादाजी का निधन होने से पूरा परिवार कार्यक्रम के चलते हैप्पी विला कॉलोनी में रह रहा था। कार्यक्रम से लौटने के बाद घर में रखे आभूषण सोने की चेन, एक ब्रेसलेट, पांच सोने की अंगुठियां, एक मगंलसूत्र का पेंडल सहित अन्य करीब 3 लाख रुपए कोई अज्ञात चोर चुराकर ले गया है।

कार्यक्रम के दौरान बुआ के लडके अंकित शर्मा को घर की चाबी दी थी, जिसपर शंका है, पुलिस टीम ने अंकति को महू से गिरफ्तार कर धार कोतवाली थाने लाई थी। घटना का पर्दाफाश करने में थाना प्रभारी कोतवाली समीर पाटीदार, कार्यवाह सउनि गजेंन्द्र सिंह, प्रधान आरक्षक सोनू चौहान, प्रधान आरक्षक आशिफ शेख, आरक्षक उमेश, सायबर सेल के प्रशांत की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

झाबुआ जिले के निकायों में भाजपा की बड़ी जीत

Fri Sep 30 , 2022
झाबुआ, अग्निपथ। नगरीय निकाय निर्वाचन नगरपालिका झाबुआ, नगर परिषद राणापुर, थांदला एवं पेटलावद के परिणाम घोषित कर आज प्रमाण पत्र विजयी उम्मीदवार को प्रदान कर दिये गये है। निर्वाचन प्रेक्षक महेशचन्द्र चौधरी, कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती रजनी सिंह एवं पुलिस अधीक्षक अगम जैन के द्वारा स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं […]